तुला और मकर राशि वाले पर शनि का प्रभाव रहेगा

87
अक्षय तृतीया तीन मई को
अक्षय तृतीया तीन मई को।

वृश्चिक, कुंभ के लिए मिश्रित, धनु के लिए तनावपूर्ण और मीन के लिए सामान्य रहेगा 2022

RashiFal 2022 : Saturn’s influence will be on Libra and Capricorn : तुला और मकर राशि वाले पर शनि का प्रभाव रहेगा। वृश्चिक व कुंभ राशि वाले के लिए मिश्रित, धनु के लिए तनावपूर्ण और मीन राशि के लिए सामान्य रहेगा वर्ष 2022। कल के अंक में आपने पढ़ा मेष से कन्या तक की छह राशि के वर्षफल। आज शेष छह राशियों के वर्षफल पढ़ें। साथ ही यह भी जानें कि दोष दूर करने व बेहतर परिणाम के लिए क्या उपाय करना उचित होगा।

तुला

(यदि आपका जन्म 23 सितंबर से 23 अक्टूबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते हो तो) तुला और मकर राशि वाले पर शनि का प्रभाव रहेगा। आर्थिक समस्या के साथ ही रोगों का खतरा है। काम धीमी गति से होंगे। आर्थिक दबाव में ऋण लेना पड़े तो उसे चुकाने में कोई चूक न करें। अन्यथा संकट में पड़ जाएंगे। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। यदि तबीयत खराब लगे तो तत्काल चिकित्सक से परामर्श लें। प्रियजनों में वैमनस्य का खतरा रहेगा। क्रोध और वाणी पर नियंत्रण रखें। विवादों से स्वयं को यथासाध्य दूर रखें। न्यायिक विवाद में फंसे तो समस्या और गहरा जाएगी। स्थान परिवर्तन का भी योग है। विद्यार्थियों की पढ़ाई में रुचि कम होगी। इसका असर उनके प्रदर्शन पर पड़ेगा। हनुमान जी की उपासना से लाभ मिलेगा।

वृश्चिक

(यदि आपका जन्म 24 अक्टूबर से 21 नवंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू हो तो) वर्ष मिला-जुला फल वाला है। व्यवसाय में लाभ होगा। निर्माण कार्य से जुड़े तो कुछ रचनात्मक कर सकेंगे। नए कार्य में हाथ डालने से पहले ठीक से सोच-विचार कर लें। पुरानी योजना से लाभ मिलेगा। उससे सुख-सुविधा में भी वृद्धि होगी। भूमि या भवन के कारोबार में लाभ का योग है। जीवनसाथी के स्वास्थ्य में सुधार से प्रसन्नता मिलेगी। विरोधियों से बचकर रहें। वे थोड़े परेशान कर सकते हैं। दुर्व्यसन से दूर रहें। अन्यथा धन के साथ सम्मान की भी हानि होगी। वर्ष का उत्तरार्द्ध शुभ होगा। नए लोगों से उपयोगी संपर्क बनेंगे। मित्र फिर से उपयोगी साबित होंगे। परिवार के साथ मनोरंजक यात्रा पर जा सकते हैं। गणेश की पूजा का लाभ मिलेगा।

धनु

(यदि आपका जन्म 22 नवंबर से 21 दिसंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे हो तो) यह वर्ष आपके लिए थोड़ा तनावपूर्ण रह सकता है। आर्थिक समस्या बढ़ेगी। इसका प्रभाव मानसिक रूप से भी पड़ेगा। तनाव बढ़ने से मन चिड़चिड़ा सा रहेगा। बीमारियां भी परेशान कर सकती है। हालांकि आर्थिक रूप से स्थिति संतोषजनक रहेगी। आय के साधनों में वृद्धि का योग है। कामकाज के लिए घर से दूर जाना पड़ सकता है। यदि ऐसा हुआ तो आर्थिक रूप से वह लाभदायक होगा। कार्यक्षेत्र में प्रगति होगी। हालांकि साझेदारी में काम करने वाले को सतर्क रहने की आवश्यकता है। उन्हें धोखा हो सकता है। जीवनसाथी से मतभेद का खतरा है। उचित होगा कि बातचीत और आचरण में संयम बनाए रखें। बटुक भैरव की पूजा और मंत्र जप कल्याणकारी होगा।

यह भी पढ़ें- पंच तत्व का शरीर में संतुलन कर जीवन बनाएं सुखी

मकर

(यदि आपका जन्म 22 दिसंबर से 19 जनवरी के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- भो, जा, जी, खी, खू, ख, खो, गा, गी हो तो) तुला और मकर राशि वाले पर शनि का प्रभाव रहेगा। शारीरिक कष्ट के साथ प्रियजनों से अलग भी होना पड़ सकता है। यदि उनके साथ रहे भी तो अनबन का खतरा रहेगा। वैवाहिक जीवन में भी तनाव रह सकता है। कार्यक्षेत्र में तनाव के साथ ही स्थान परिवर्तन भी संभव है। अधिक परिश्रम करके भी न्यूनतम लाभ ही हासिल हो सकेगा। किसी संबंधी या मित्र से इस वर्ष सहायता की आशा नहीं करें। किसी हथियार, वाहन या गिरने आदि से चोट लगने का भय रहेगा। परिवार में मांगलिक कार्यक्रम का योग है। विद्यार्थियों को सफलता पाने के लिए बहुत अधिक परिश्रम करना पड़ेगा। शनि मंत्र के साथ ही हनुमान जी की उपासना से राहत मिलेगी।

कुंभ

(यदि आपका जन्म 20 जनवरी से 18 फरवरी के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा हो तो) वर्ष मिश्रित फल वाला है। आपकी धन-संपत्ति में वृद्धि होगी। मांगलिक कार्य करेंगे। धार्मिक गतिविधियों में रुचि बढ़ेगी। परोपकार एवं दान करेंगे। आय लगभग यथावत रहेगी लेकिन खर्च बढ़ने से आर्थिक स्थिति थोड़ी तंग रहेगी। पारिवारिक चिंता और मित्रों से मतभेद की भी आशंका रहेगी। किसी निकट संबंधी के निधन होने या उनसे लंबी अवधि के लिए दूर जाने का भी योग है। वर्ष के पूर्वार्द्ध में दुर्घटना होने का खतरा रहेगा। भूमि या भवन के क्रय-विक्रय में सावधानी बरतें। अन्यथा नुकसान उठाना पड़ सकता है। परिवार के बुजुर्ग को स्वास्थ्य संबंधी परेशानी हो सकती है। उनका ध्यान रखें। सूर्य को जल चढ़ाने और मां दुर्गा की उपासना से स्थिति में सुधार होगा।

मीन

(यदि आपका जन्म 19 फरवरी से 20 मार्च के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची हो तो) आपके लिए यह वर्ष सामान्य फलदायक है। रुका हुआ धन मिलेगा। विदेश यात्रा भी संभव है। प्रियजनों में सौहार्द बना रहेगा। खर्च में बेतहाशा वृद्धि होगी। इससे आर्थिक स्थिति गड़बड़ाएगी। आकस्मिक धन हानि भी हो सकती है। कार्यक्षेत्र में विघ्न-बाधा आएगी। विरोधी अधिक सक्रिय रहेंगे। उससे आप परेशानी महसूस करेंगे। मान-सम्मान की हानि भी संभव है। इन प्रतिकूल स्थितियों के बावजूद आपके सुख-साधनों में वृद्धि होगी। विद्यार्थियों के लिए शिक्षा के क्षेत्र में अच्छी संभावनाएं बनेंगी। पारिवारिक जीवन अच्छा रहेगा। जीवनसाथी का भरपूर साथ मिलेगा। परिवार में नई खुशियां आ सकती हैं। भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा कर उनके मंत्र जप करें। इससे लाभ होगा।

नोट-आपने पढ़ा- तुला और मकर राशि वाले पर शनि का प्रभाव रहेगा। इसमें चार अन्य राशियों के बारे में भी बताया गया है।

शेष छह राशियों के बारे में जानने के लिए पढ़ें– मेष राशि को लाभ और कर्क के लिए मिला-जुला रहेगा साल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here