मेष राशि को लाभ और कर्क के लिए मिला-जुला रहेगा साल

75
ज्ञानवापी में मंदिर के पक्ष में कई अकाट्य तर्क
ज्ञानवापी में मंदिर के पक्ष में कई अकाट्य तर्क।

इस अंक में पढ़ें मेष, वृष, मिथुन, कर्क, सिंह और कन्या राशि के लिए कैसा रहेगा वर्ष 2022

RashiFal 2022 : The year will be mixed for Aries and cancer : मेष राशि को लाभ और कर्क के लिए मिला-जुला रहेगा साल। दो अंकों में समाप्त होने वाले वार्षिक राशिफल में पढ़ें मेष, वृष, मिथुन, कर्क, सिंह और कन्या राशि के लिए वर्ष 2022 कैसा रहेगा। कल के अंक में आप पढ़ेंगे तुला, वृश्चिक, धनु, मकर, कुंभ और मीन राशि के बारे में। इसमें वर्षफल बताने के लिए ही यह भी बताया गया है कि बेहतर परिणाम के लिए क्या उपाय करें।

मेष

(यदि आपका जन्म 21 मार्च से 20 अप्रैल के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम का पहला अक्षर-चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ हो तो) मेष राशि को लाभ का योग है। यह वर्ष इस राशि के जातक के लिए सामान्य से थोड़ा अच्छा होगा। नौकरीपेशा लोगों की पदोन्नति संभव है। व्यवसायियों को भी लाभ मिलेगा। जातक के लिए वर्ष के अधिक हिस्से में सुख और लाभ का योग है। वैवाहिक जीवन में तालमेल बना रहेगा। संतान से सामान्य सहयोग मिलेगा। मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान दें। किसी पर अधिक विश्वास नहीं करें। नजदीकी संबंधों में सुखद परिणाम की सूचना से खुशी मिलेगी। माता-पिता या वरिष्ठ जनों के साथ संबंध मधुर होंगे। विद्यार्थियों की शिक्षा में प्रगति होगी। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों को सफलता मिल सकती है। अच्छे फल और दोष निवारण के लिए इस वर्ष विष्णु की उपासना फलदायी होगी।

वृष

(यदि आपका जन्म 21 अप्रैल से 20 मई के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो हो तो) जातक के लिए यह वर्ष बदलाव लाने वाला रहेगा। कार्यक्षेत्र के साथ ही स्थान परिवर्तन भी संभव है। आर्थिक क्षेत्र में सोच-विचार कर ही फैसला करें। विशेषकर साझेदारी वाले काम को ठीक से परख लें। हालांकि व्यवसाय में नुकसान नहीं होगा। स्वास्थ्य के मामले में यह वर्ष आपके लिए अपेक्षाकृत अच्छा रहेगा। ग्रहों के प्रभाव से आपमें अहंकार की भावना बढ़ सकती है। इस पर नियंत्रण रखें। किसी भी प्रकार के विवाद से स्वयं को दूर रखें। आय के स्रोत सीमित रहेंगे। घरेलू खर्च में वृद्धि होगी। कुल मिलाकर इस वर्ष थोड़ी परेशानी रह सकती हैं। अतः धैर्यपूर्वक स्थिति का सामना करें। वर्ष के उत्तरार्द्ध में स्थिति में थोड़ा सुधार होने लगेगा। मां दुर्गा की उपासना से लाभ मिलेगा।

मिथुन

(यदि आपका जन्म 21 मई से 21 जून के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हां हो तो) यदि अपने काम पर ठीक से फोकस रख सकें तो इस साल आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। व्यवसाय में लाभ एवं उन्नति के योग हैं। हालांकि नए काम को शुरू करने में जल्दबाजी नहीं करें। उचित होगा कि ठीक से सोच-विचार करके उसे साल के अंत में अमल में लाएं। इससे आर्थिक उन्नति के साथ आय के नए स्रोत भी खुल सकते हैं। पारिवारिक जीवन के लिए यह वर्ष अनुकूल है। घर में कोई धार्मिक या मांगलिक कार्य संपन्न हो सकता है। अपने स्वास्थ्य के प्रति सतर्क रहें। विद्यार्थियों के लिए भी यह साल महत्वपूर्ण है। हालांकि सफलता पाने के लिए उन्हें कड़ी मेहनत करनी होगी। इस वर्ष गणेश जी की उपासना जातक के लिए लाभकारी होगी।

यह भी पढ़ें- राशि के आधार पर जानें अपना व्यक्तित्व और भाग्य

कर्क

(यदि आपका जन्म 22 जून से 22 जुलाई के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो हो तो) मेष राशि को लाभ और कर्क राशि वाले के लिए मिला-जुला रहेगा साल। नौकरीपेशा लोगों के लिए अच्छा रहेगा। व्यवसायियों को परिश्रम करने के साथ-साथ उचित लाभ पाने के लिए जूझना पड़ेगा। परिवार में खींचतान रह सकती है। इसका असर निजी जीवन पर भी पड़ेगा। स्वास्थ्य संबंधी परेशानी भी हो सकती है। नव दंपतियों का वैवाहिक जीवन अच्छा रहेगा। अनावश्यक भागदौड़ से बचें। खर्च पर नियंत्रण बनाकर रखें। अन्यथा आर्थिक समस्या हो सकती है। स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहें। खान-पान में संयम बरतें। अन्यथा समस्या हो सकती है। धार्मिक गतिविधियों में शामिल होंगे। इससे थोड़ी मानसिक शांति मिलेगी। वर्ष के अंत में सकारात्मक विचार आएंगे। सूर्य को नित्य जल चढ़ाना लाभकारी होगा।

सिंह

(यदि आपका जन्म 23 जुलाई से 22 अगस्त के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर-मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे हो तो) वर्ष का प्रारंभ अच्छा रहेगा। आपको भूमि, मकान और वाहन का सुख मिल सकता है। कार्यक्षेत्र में लिए भी समय अनुकूल है। आप अपने कामकाज पर अधिक ध्यान देंगे। इसका अपेक्षित लाभ भी मिलेगा। इस दौरान लाभ दिलाने वाली यात्रा का भी योग बन सकता है। आय बढ़ने का योग है। इसके साथ ही खर्च भी बढ़ेंगे। कुल मिलाकर बचत नहीं के बराबर होगी। पारिवारिक जीवन अनुकूल रहेगा। संतान की ओर से कोई अच्छी सूचना मिल सकती है। वर्ष के उत्तरार्द्ध में स्वास्थ्य संबंधी समस्या हो सकती है। यदि ऐसा हो तो इसे हल्के में नहीं ले। उच्च शिक्षा के इच्छुक विद्यार्थी अपने लक्ष्य की ओर सफलतापूर्वक बढ़ सकेंगे। इस वर्ष नित्य मां लक्ष्मी की पूजा से लाभकारी होगी।

कन्या

(यदि आपका जन्म 23 अगस्त से 22 सितंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो हो तो) इस राशि वाले के लिए नया वर्ष ठीक-ठाक रहेगा। कार्यक्षेत्र में स्थिति संतोषजनक रहेगी। मनचाहा स्थानांतरण हो सकता है। कार्यक्षेत्र में बदलाव, अर्थात नौकरी से व्यवसाय या अन्य की योजना हो तो उसके लिए भी अनुकूल समय है। हालांकि इसमें जमकर मेहनत करनी होगी। अपने काम को छोड़कर नौकरी में जाने के इच्छुक लोगों को भी सफलता मिलने का योग है। इस वर्ष पारिवारिक रूप से थोड़ा कठिन समय हो सकता है। विवाद से निपटना चुनौती बनेगी। स्वास्थ्य के लिए अनुकूल समय है। यदि अपनी देखभाल ठीक से करते रहे तो कोई आकस्मिक समस्या नहीं होनी चाहिए। विरोधी थोड़ा परेशान कर सकते हैं। ऐसे में नित्य तीन बार हनुमान चालीसा का पाठ करें। इससे लाभ होगा।

नोट-वार्षिक राशिफल जारी रहेगा। इसमें आपने पढ़ा मेष राशि को लाभ और कर्क के लिए मिला-जुला रहेगा साल। कल के अंक में पढ़ें तुला से मीन तक शेष छह राशि वाले के बारे में।

यह भी पढ़ें- ग्रह और वास्तु दोष को मामूली उपायों से सुधारें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here