18 मार्च 2022 का राशिफल और दो दिन का पंचांग

47
18 मार्च 2022 का राशिफल और दो दिन का पंचांग
18 मार्च 2022 का राशिफल और दो दिन का पंचांग।

rashifal and panchang of 18 March : 18 मार्च 2022 का राशिफल पढ़ें। जानें कैसा रहेगा आपका दिन। दो दिन का पंचांग देखें। इसमें सूर्योदय-सूर्यास्त का समय है। शुभ और अशुभ काल के साथ नक्षत्र व योग की जानकारी है। दिशा शूल में देखें कि किस दिशा की यात्रा ठीक नहीं है। उस ओर जाना जरूरी हो तो बचाव के उपाय पढ़ें।

शुक्रवार का पंचांग

18 मार्च। विक्रम संवत- 2078। शक संवत- 1942। अयन- उत्तरायन। मास- फाल्गुन। पक्ष- शुक्ल पक्ष। तिथि- पूर्णिमा दिन के 12.47 बजे तक। नक्षत्र- उत्तर फाल्गुनी रात के 12.18 बजे तक। योग- गंड रात के 11.15 बजे तक। दिशा शूल- पश्चिम और नैऋत्य (दक्षिण-पश्चिम) दिशा। इस ओर यात्रा उचित नहीं है। सूर्योदय- प्रातः 06.28 बजे। सूर्यास्त- सायं 18.31 बजे। राहुकाल- दिन के 10.59 से 12.29 बजे तक। अभिजीत मुहूर्त- 12.05 से 12.53 बजे तक है। (नई दिल्ली के समयानुसार)

शनिवार का पंचांग

19 मार्च। विक्रम संवत- 2078। शक संवत- 1942। अयन- उत्तरायन। मास- चैत्र। पक्ष- कृष्ण पक्ष। तिथि- प्रतिपदा दिन के 11.37 बजे तक। नक्षत्र- हस्त रात के 11.38 बजे तक। योग- वृद्धि रात के 09.01 बजे तक। दिशा शूल- पूर्व और ईशान (उत्तर-पूर्व) दिशा। इस ओर यात्रा उचित नहीं है। सूर्योदय- प्रातः 06.27 बजे। सूर्यास्त- सायं 18.32 बजे। राहुकाल- दिन के 09.28 से 10.58 बजे तक। अभिजीत मुहूर्त- 12.05 से 12.53 बजे तक है। (नई दिल्ली के समयानुसार)

18 मार्च 2022 का राशिफल

पढ़ें 18 मार्च 2022 का राशिफल। जानें कैसा बीतेगा आपका दिन? इसमें आप अपने जन्म समय और प्रचलित नाम के पहले अक्षर में से किसी भी आधार पर अपनी राशि जान सकते हैं। ऐसा पाया गया है कि बोलने वाले नाम का भी व्यक्ति के स्वभाव और जीवन पर असर पड़ता है। उसे भी इसमें शामिल किया गया है। साथ ही 12 राशियों को साल के 12 महीनों में तारीख के आधार पर भी बांटकर राशिफल दिया गया है। ये सारी विधियां प्रचलित और उपयोगी हैं। पाठक सुविधानुसार किसी का भी चयन कर सकते हैं।

मेष

(यदि आपका जन्म 21 मार्च से 20 अप्रैल के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम का पहला अक्षर-चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ हो तो) दिन आपके लिए गृह उपयोगी वस्तुओं में वृद्धि के लिए रहेगा। इससे परिवार के सदस्य भी प्रसन्न होंगे। यदि आज आप अपने ससुराल पक्ष के किसी व्यक्ति से धन का लेन-देन करने की सोच रहे हैं, तो सावधानी बरतें।

वृष

(यदि आपका जन्म 21 अप्रैल से 20 मई के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो हो तो) आज यदि आपको कोई पुराना मित्र मिले, तो आपको उसमें अपनी वाणी पर संयम रखना होगा, नहीं तो वह आपसे नाराज हो सकता है। आज यदि किसी नए वाहन की खरीदारी करने जा रहे हैं, तो वह आपके लिए उत्तम रहेगा।

यह भी पढ़ें- एक साथ वास्तु और ग्रह दोष दूर करें, जीवन बनाएं खुशहाल

मिथुन

(यदि आपका जन्म 21 मई से 21 जून के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हां हो तो) दिन आपके मन को संतोष देने वाला रहेगा। सामाजिक जीवन जी रहे लोगों को आज कोई उपहार व सम्मान प्राप्त हो सकता है। जिससे उनके मान-सम्मान में भी वृद्धि होगी। नए लोगों से संपर्क बनेंगे जो उपयोगी सिद्ध होंगे।

कर्क

(यदि आपका जन्म 22 जून से 22 जुलाई के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो हो तो) आज आप किसी कार्य के संपन्न होने से प्रसन्न रहेंगे, जिसके कारण आप अपने परिवार के सदस्यों के लिए भी किसी छोटी मोटी पार्टी का आयोजन कर सकते हैं। विद्यार्थियों को सफलता पाने के लिए एकाग्र होकर पढ़ाई में जुटना होगा।

सिंह

(यदि आपका जन्म 23 जुलाई से 22 अगस्त के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर-मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे हो तो) व्यवसाय में आज विरोधी आपके खिलाफ कोई षड्यंत्र रचने की कोशिश कर सकते हैं। आपको उनसे बच कर रहना होगा। यदि आज किन्हीं भावी योजनाओं में निवेश करेंगे, तो वह योजनाएं भविष्य में आपको भरपूर लाभ देंगी।

कन्या

(यदि आपका जन्म 23 अगस्त से 22 सितंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो हो तो) संतान पक्ष की ओर से भी आपको आज कोई हर्ष बढ़ाने वाला समाचार सुनने को मिलेगा। यह आपकी खुशी में चार चांद लगाएगा। यदि परिवार में लंबे समय से कोई कलह पैर पसारे हुए है, तो वह आज समाप्त होगी।

तुला

(यदि आपका जन्म 23 सितंबर से 23 अक्टूबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते हो तो) 18 मार्च 2022 का राशिफल मिश्रित है। आज आप दूसरों की भलाई के लिए कुछ धन व्यय करेंगे। इसमें आपको ध्यान देना होगा कहीं लोग इसे आपका स्वार्थ न समझें। यदि ऐसा हो, तो पीछे रहना ही बेहतर होगा।

वृश्चिक

(यदि आपका जन्म 24 अक्टूबर से 21 नवंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू हो तो) नौकरीपेशा जातकों के पद और प्रतिष्ठा में वृद्धि का दिन रहेगा। आज आपको अपने अधिकारियों द्वारा कोई अच्छी खबर सुनने को मिलेगी। इससे आपका मन प्रसन्न रहेगा और कार्य करने में भी खूब मन लगेगा।

धनु

(यदि आपका जन्म 22 नवंबर से 21 दिसंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे हो तो) साझेदारी में यदि आपने किसी व्यवसाय को किया हुआ है, तो वह आज आपको उत्तम लाभ दे सकता है। शाम के समय आज आप अपने मित्रों के साथ किसी धार्मिक स्थान की यात्रा पर जाने की योजना बना सकते हैं।

मकर

(यदि आपका जन्म 22 दिसंबर से 19 जनवरी के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- भो, जा, जी, खी, खू, ख, खो, गा, गी हो तो) आज के दिन आप अपने आपको ऊर्जावान महसूस करेंगे। इसके कारण आप अपने सभी कार्यों को करने के लिए तत्पर रहेंगे और उन्हें काफी हद तक पूरा करने में सफल रहेंगे। व्यावसायिक बातों को गोपनीय रखें।

कुंभ

(यदि आपका जन्म 20 जनवरी से 18 फरवरी के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा हो तो) दिन मिला-जुला फल वाला है। आपको कोई नुकसान उठाना पड़ सकता है। आज अचानक से अपने पारिवारिक खर्च में बढ़ोतरी देखकर आप कुछ मानसिक तनाव व दबाव महसूस करेंगे, जिसके कारण आप परेशान भी रहेंगे।

मीन

(यदि आपका जन्म 19 फरवरी से 20 मार्च के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची हो तो) आज का दिन आपके लिए मध्यम रूप से फलदायक रहेगा। सामान्य सफलता मिलेगी। यदि आप कोई निवेश करने की सोच रहे हैं, तो उसे कुछ समय के लिए टाल दें। अन्यथा उसमें आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है।

नोट- 18 मार्च 2022 का राशिफल आपने पढ़ा। दिशा शूल में जाना कि आज पश्चिम और दक्षिण-पश्चिम की यात्रा ठीक नहीं है। जाना जरूरी हो तो जौ खाकर रवाना हों। इससे दोष में कमी आएगी। यदि एक ही स्थान से चलकर वापस लौटना हो तो कुछ करने की जरूरत नहीं है।

यह भी पढ़ें- पहली महाविद्या काली से देवता भी पाते है शक्ति व सिद्धि

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here