19 मार्च 2022 का राशिफल और दो दिन का पंचांग

109
19 मार्च 2022 का राशिफल और दो दिन का पंचांग
19 मार्च 2022 का राशिफल और दो दिन का पंचांग।

rashifal and panchang of 19 March : 19 मार्च 2022 का राशिफल पढ़ें। जानें कैसा रहेगा आपका दिन। दो दिन का पंचांग देखें। इसमें सूर्योदय-सूर्यास्त का समय है। शुभ और अशुभ काल के साथ नक्षत्र व योग की जानकारी है। दिशा शूल में देखें कि किस दिशा की यात्रा ठीक नहीं है। उस ओर जाना जरूरी हो तो बचाव के उपाय पढ़ें।

शनिवार का पंचांग

19 मार्च। विक्रम संवत- 2078। शक संवत- 1942। अयन- उत्तरायन। मास- चैत्र। पक्ष- कृष्ण पक्ष। तिथि- प्रतिपदा दिन के 11.37 बजे तक। नक्षत्र- हस्त रात के 11.38 बजे तक। योग- वृद्धि रात के 09.01 बजे तक। दिशा शूल- पूर्व और ईशान (उत्तर-पूर्व) दिशा। इस ओर यात्रा उचित नहीं है। सूर्योदय- प्रातः 06.27 बजे। सूर्यास्त- सायं 18.32 बजे। राहुकाल- दिन के 09.28 से 10.58 बजे तक। अभिजीत मुहूर्त- 12.05 से 12.53 बजे तक है। (नई दिल्ली के समयानुसार)

रविवार का पंचांग

20 मार्च। विक्रम संवत- 2078। शक संवत- 1942। अयन- उत्तरायन। मास- चैत्र। पक्ष- कृष्ण पक्ष। तिथि- द्वितीया दिन के 10.06 बजे तक। नक्षत्र- चित्रा रात के 10.40 बजे तक। योग- ध्रुव शाम के 06.34 बजे तक। दिशा शूल- पश्चिम और नैऋत्य (दक्षिण-पश्चिम) दिशा। इस ओर यात्रा उचित नहीं है। सूर्योदय- प्रातः 06.25 बजे। सूर्यास्त- सायं 18.32 बजे। राहुकाल- शाम के 05.01 से 06.32 बजे तक। अभिजीत मुहूर्त- 12.05 से 12.53 बजे तक है। (नई दिल्ली के समयानुसार)

19 मार्च 2022 का राशिफल

पढ़ें 19 मार्च 2022 का राशिफल। जानें कैसा बीतेगा आपका दिन? इसमें आप अपने जन्म समय और प्रचलित नाम के पहले अक्षर में से किसी भी आधार पर अपनी राशि जान सकते हैं। ऐसा पाया गया है कि बोलने वाले नाम का भी व्यक्ति के स्वभाव और जीवन पर असर पड़ता है। उसे भी इसमें शामिल किया गया है। साथ ही 12 राशियों को साल के 12 महीनों में तारीख के आधार पर भी बांटकर राशिफल दिया गया है। ये सारी विधियां प्रचलित और उपयोगी हैं। पाठक सुविधानुसार किसी का भी चयन कर सकते हैं।

मेष

(यदि आपका जन्म 21 मार्च से 20 अप्रैल के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम का पहला अक्षर-चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ हो तो) आज आपको व्यापार के लिए यात्रा पर जाना पड़ सकता है। आपका लंबे समय से रुका हुआ कोई कार्य संपन्न होगा। इसके कारण आप प्रसन्न रहेंगे। सायंकाल के समय आप किसी धार्मिक आयोजन में सम्मिलित हो सकते हैं।

वृष

(यदि आपका जन्म 21 अप्रैल से 20 मई के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो हो तो) दिन आपके लिए सामान्य रहने वाला है। आज आपको अपने परिवार के लिए कोई निर्णय लेने से पहले परिवार के सदस्यों से सलाह-मशवरा करना होगा। यदि आपने ऐसा नहीं किया, तो भविष्य में उसके लिए पछताना पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें- बेजोड़ है सिद्धकुंजिका स्तोत्र और बीसा यंत्र अनुष्ठान

मिथुन

(यदि आपका जन्म 21 मई से 21 जून के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हां हो तो) यदि आज आप किसी को धन उधार देने की सोच रहे हैं, तो बिल्कुल न दें। अन्यथा आपका धन फंस सकता है। प्रेम जीवन जी रहे लोगों में यदि कोई विवाद चल रहा था, तो आज वह भी समाप्त होगा। जीवनसाथी का साथ मिलेगा।

कर्क

(यदि आपका जन्म 22 जून से 22 जुलाई के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो हो तो) आज का दिन आपके लिए सकारात्मक परिणाम लेकर आएगा। विद्यार्थी सफलता प्राप्त करने के लिए भविष्य की रणनीति बनाएंगे। व्यवसाय कर रहे लोगों को आज अपने कार्यक्षेत्र में मामूली कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है।

सिंह

(यदि आपका जन्म 23 जुलाई से 22 अगस्त के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर-मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे हो तो) दिन पुरुषार्थ के बल पर सफलता पाने का है। आपके समक्ष आज कुछ चुनौतियां आएंगी लेकिन आप उसे धैर्य व साहस से पार करने में सफल रहेंगे। नए व्यवसाय को शुरू करने के इच्छुक लोगों के लिए आज का दिन अनुकूल नहीं है।

कन्या

(यदि आपका जन्म 23 अगस्त से 22 सितंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो हो तो) आपके लिए आर्थिक दृष्टिकोण से उत्तम समय है। यदि कहीं निवेश करने की योजना हो तो बेहिचक करें। आपको अपेक्षा से अधिक सफलता मिलेगी। बहन के विवाह में आ रही बाधाएं किसी परिजन की मदद से दूर होगी।

तुला

(यदि आपका जन्म 23 सितंबर से 23 अक्टूबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते हो तो) 19 मार्च 2022 का दिन रोजगार की दिशा में प्रयास कर रहे लोगों के लिए खुशखबरी लेकर आएगा। आज उनको मन मुताबिक परिणाम सुनने को मिल सकता है, जिससे वह प्रसन्न रहेंगे। आज अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

वृश्चिक

(यदि आपका जन्म 24 अक्टूबर से 21 नवंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू हो तो) पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा। कार्यक्षेत्र में आपको अपनी योग्यता बढ़ाने से सफलता अवश्य मिलेगी। सरकारी नौकरी से जुड़े जातकों को आज अधिकारी से डांट खानी पड़ सकती है। अतः अपने कार्य पर ध्यान दें।

धनु

(यदि आपका जन्म 22 नवंबर से 21 दिसंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे हो तो) आज आपको आय और व्यय में संतुलन बना कर रखना होगा। यदि आपने ऐसा नहीं किया, तो भविष्य में आर्थिक संकट से जूझना पड़ सकता है। माताजी के स्वास्थ्य को लेकर सतर्क रहें। उन्हें परेशानी हो सकती है।

मकर

(यदि आपका जन्म 22 दिसंबर से 19 जनवरी के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- भो, जा, जी, खी, खू, ख, खो, गा, गी हो तो) दिन आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। राजनीति प्रयासरत लोगों के कार्यों की सराहना होगी। उनके समर्थन में भी बढ़ोतरी होने का योग है। आज आपको सत्ता का भी भरपूर सहयोग मिलता दिख रहा है।

कुंभ

(यदि आपका जन्म 20 जनवरी से 18 फरवरी के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा हो तो) आपके परिवार में किसी शुभ व मांगलिक कार्यक्रम पर चर्चा हो सकती है। आज आपको अनावश्यक व्यय का भी सामना करना पड़ सकता है। जमीन-जायदाद से जुड़ा विवाद चल रहा हो, तो वह भी आज सुलझ सकता है।

मीन

(यदि आपका जन्म 19 फरवरी से 20 मार्च के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची हो तो) आज आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहना होगा। उसमें गिरावट आ सकती है। अपने खान-पान पर नियंत्रण रखें। यदि पहले से आपको कोई रोग था, तो उसके कष्टों में वृद्धि हो सकती है। ऐसा होने पर डाक्टर से परामर्श लें।

नोट- 19 मार्च 2022 का राशिफल आपने पढ़ा। दिशा शूल में जाना कि आज पूर्व और उत्तर-पूर्व की यात्रा ठीक नहीं है। जाना जरूरी हो तो अदरक या उड़द खाकर रवाना हों। इससे दोष में कमी आएगी। यदि एक ही स्थान से चलकर वापस लौटना हो तो कुछ करने की जरूरत नहीं है।

यह भी पढ़ें- गणेश के अद्भुत मंत्र और उसकी प्रयोग विधि

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here