तीन अप्रैल 2022 का राशिफल और दो दिन का पंचांग

57
18 मई 2022 राशिफल और दो दिन का पंचांग
18 मई 2022 का राशिफल और दो दिन का पंचांग।

rashifal and panchang of 3 April : तीन अप्रैल 2022 का राशिफल और दो दिन का पंचांग पढ़ें। जानें कि कैसा रहेगा आपका दिन। पंचांग में देखें सूर्योदय व सूर्यास्त का समय। साथ ही पढ़ें शुभ और अशुभ काल के साथ नक्षत्र व योग की जानकारी। दिशा शूल में देखें कि किस दिशा की यात्रा ठीक नहीं है। उस ओर जाना जरूरी हो तो बचाव के उपाय पढ़ें।

रविवार का पंचांग

3 अप्रैल। विक्रम संवत- 2079। शक संवत- 1943। अयन- उत्तरायन। मास- चैत्र। पक्ष- शुक्ल पक्ष। तिथि- द्वितीया दिन के 12.38 बजे तक। नक्षत्र- अश्विनी दिन के 12.37 बजे तक। योग- वैधृति सुबह के 07.53 बजे तक। दिशा शूल- पश्चिम और नैऋत्य (दक्षिण-पश्चिम) दिशा। इस ओर यात्रा उचित नहीं है। सूर्योदय- प्रातः 06.09 बजे। सूर्यास्त- सायं 18.40 बजे। राहुकाल- संध्या के 05.06 से 06.40 बजे तक। अभिजीत मुहूर्त- 12.00 से 12.50 बजे तक है। (नई दिल्ली के समयानुसार)

सोमवार का पंचांग

4 अप्रैल। विक्रम संवत- 2079। शक संवत- 1943। अयन- उत्तरायन। मास- चैत्र। पक्ष- शुक्ल पक्ष। तिथि- तृतीया दिन के 01.54 बजे तक। नक्षत्र- भरिणी दिन के 02.29 बजे तक। योग- विष्कंभ सुबह के 07.43 बजे तक। दिशा शूल- पूर्व और अग्नेय (दक्षिण-पूर्व) दिशा। इस ओर यात्रा उचित नहीं है। सूर्योदय- प्रातः 06.08 बजे। सूर्यास्त- सायं 18.41 बजे। राहुकाल- प्रातः के 07.42 से 09.16 बजे तक। अभिजीत मुहूर्त- 11.59 से 12.49 बजे तक है। (नई दिल्ली के समयानुसार)

तीन अप्रैल 2022 का राशिफल पढ़िए

जानें तीन अप्रैल 2022 को कैसा बीतेगा आपका दिन? इसमें आप अपने जन्म समय और प्रचलित नाम के पहले अक्षर में से किसी भी आधार पर अपनी राशि जान सकते हैं। ऐसा पाया गया है कि बोलने वाले नाम का भी व्यक्ति के स्वभाव और जीवन पर असर पड़ता है। उसे भी इसमें शामिल किया गया है। साथ ही 12 राशियों को साल के 12 महीनों में तारीख के आधार पर भी बांटकर राशिफल दिया गया है। ये सारी विधियां प्रचलित और उपयोगी हैं। पाठक सुविधानुसार किसी का भी चयन कर सकते हैं।

मेष

(यदि आपका जन्म 21 मार्च से 20 अप्रैल के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम का पहला अक्षर-चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ हो तो) आज व्यवसायियों को अधिक लाभ कमाने के प्रलोभन दिए जाएंगे। इससे बचें, अन्यथा हानि निश्चित है। नौकरीपेशा जातक आज अपनी चतुराई से प्रतिकूल परिस्थिति को भी अपने अनुकूल बना लेंगे।

वृष

(यदि आपका जन्म 21 अप्रैल से 20 मई के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो हो तो) परिवार में तनाव बना रहेगा। इस कारण आप घर से अधिक समय बाहर बिताना पसंद करेंगे। शाम से स्थिति सुधरने लगेगी। धैर्य बनाए रखें। आज जोखिम वाले काम से दूर रहें। उसमें कष्ट की आशंका है।

यह भी पढ़ें- दुर्गा का हर रूप करती हैं ग्रह शांति, जानें ब्रह्मचारिणी के बारे में

मिथुन

(यदि आपका जन्म 21 मई से 21 जून के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हां हो तो) आज का दिन आपके लिए अनुकूल है। कार्यक्षेत्र में व्यस्तता के बीच सफलता का योग है। इससे मन प्रसन्न रहेगा। किसी पुराने मित्र से आकस्मिक मुलाकात संभव है। उनकी मदद से लटके काम को पूरा करेंगे।

कर्क

(यदि आपका जन्म 22 जून से 22 जुलाई के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो हो तो) दिन व्यस्तता से भरा रहेगा। नए कार्य के लिए अधिक भागदौड़ करनी पड़ेगी। इस चक्कर में परिवार के लिए भी समय निकाल पाना कठिन होगा। आज आपके किसी परिजन का स्वास्थ्य खराब हो सकता है।

सिंह

(यदि आपका जन्म 23 जुलाई से 22 अगस्त के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर-मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे हो तो) तीन अप्रैल 2022 का दिन तनावपूर्ण है। कार्यक्षेत्र में असहयोगी वातावरण मिलेगा। आज आप जिससे भी सहायता की आशा रखेंगे, निराशा मिलेगी। अंत में स्वयं के बलबूते ही कार्य करना पड़ेगा।

कन्या

(यदि आपका जन्म 23 अगस्त से 22 सितंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो हो तो) आज का दिन आपके लिए आनंददायक रहेगा। आज आप स्वतंत्र विचार रहने के कारण किसी के दबाव में नहीं आएंगे। कोई भी कार्य चाहे वह गलत हो या सही बिना सोचे-समझे करेंगे।

तुला

(यदि आपका जन्म 23 सितंबर से 23 अक्टूबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते हो तो) आज आप पर आलस्य हावी रहेगा। इस चक्कर में कार्यक्षेत्र में लापरवाही कर सकते हैं। अपना कार्य किसी सहयोगी से कराना आप पर भारी पड़ेगा। इसका आप पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

वृश्चिक

(यदि आपका जन्म 24 अक्टूबर से 21 नवंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू हो तो) आज आपको किसी भी तरीके से धन की आमद होकर रहेगी। इससे आपको लाभ ही होगा, किसी परेशानी में नहीं फंसेंगे। धार्मिक गतिविधियों में मन लगेगा। इससे मन को शांति मिलेगी।

धनु

(यदि आपका जन्म 22 नवंबर से 21 दिसंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे हो तो) आज का कार्य कल पर छोड़ना ठीक नहीं है। इससे नुकसान होगा। बाद में अधूरा काम पूरा होना कठिन होगा। परिवार में किसी का स्वास्थ्य बिगड़ने से अधिक भागदौड़ करनी पड़ सकती है।

मकर

(यदि आपका जन्म 22 दिसंबर से 19 जनवरी के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- भो, जा, जी, खी, खू, ख, खो, गा, गी हो तो) आज आप लंबे समय से लटके किसी महत्वपूर्ण कार्य को पूरा कर इतरा सकेंगे। इससे मन प्रसन्न रहेगा। आपकी सफलता से खुश परिवार वाले छोटी-मोटी पार्टी का आयोजन कर सकते हैं।

कुंभ

(यदि आपका जन्म 20 जनवरी से 18 फरवरी के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा हो तो) आज आपकी पुरानी यादें ताजा होने से मन भावुक हो उठेगा। कार्यक्षेत्र में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। व्यवसायियों को रुक-रुककर धन की कामचलाऊ आमद होगी। सुख-सुविधा के साधन बढ़ेंगे।

मीन

(यदि आपका जन्म 19 फरवरी से 20 मार्च के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची हो तो) आज आपके लिए यात्रा का योग बनता दिख रहा है। इस कारण आपकी दिनचर्या अति व्यस्त रहेगी। कार्यक्षेत्र की योजनाओं में भी बदलाव संभव है। प्रियजनों से मुलाकात होने से मन प्रसन्न रहेगा।

नोट- तीन अप्रैल 2022 का राशिफल आपने पढ़ा। दिशा शूल में जाना कि आज पश्चिम और दक्षिण-पश्चिम की यात्रा ठीक नहीं है। जाना जरूरी हो तो दलिया या घी खाकर रवाना हों। इससे दोष में कमी आएगी। यदि एक ही स्थान से चलकर वापस लौटना हो तो कुछ करने की जरूरत नहीं है।

यह भी पढ़ें- अत्यंत कल्याणकारी है दुर्गा सप्तशती

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here