सात अक्टूबर 2021 का राशिफल और दो दिन का पंचांग

85
19 मार्च 2022 का राशिफल और दो दिन का पंचांग
19 मार्च 2022 का राशिफल और दो दिन का पंचांग।

rashifal and panchang of 7 October : सात अक्टूबर 2021 का राशिफल पढ़ें। जानें कैसा रहेगा आपका दिन। दो दिन का पंचांग देखें। इसमें सूर्योदय-सूर्यास्त का समय है। शुभ और अशुभ काल के साथ नक्षत्र व योग की जानकारी है। दिशा शूल में देखें कि किस दिशा की यात्रा ठीक नहीं है। उस ओर जाना जरूरी हो तो बचाव के उपाय पढ़ें।

बृहस्पतिवार का पंचांग (शारदीय नवरात्र आरंभ)

07 अक्टूबर। विक्रम संवत- 2078। शक संवत- 1942। अयन- उत्तरायन। मास- आश्विन। पक्ष- शुक्ल पक्ष। तिथि- प्रतिपदा दिन के 01.46 बजे तक। नक्षत्र- चित्रा रात के 09.13 बजे तक। योग- वैधृति रात के 01.40 बजे तक। दिशा शूल- दक्षिण और अग्नेय (दक्षिण-पूर्व) दिशा। इस ओर यात्रा उचित नहीं है। सूर्योदय- प्रातः 06.17 बजे। सूर्यास्त- सायं 18.00 बजे। राहुकाल- दिन के 01.37 से 03.04 बजे तक। अभिजीत- दिन के 11.45 से 12.32 बजे तक है। (नई दिल्ली के समयानुसार)

शुक्रवार का पंचांग (नवरात्र का दूसरा दिन)

08 अक्टूबर। विक्रम संवत- 2078। शक संवत- 1942। अयन- उत्तरायन। मास- आश्विन। पक्ष- शुक्ल पक्ष। तिथि- द्वितीया दिन के 10.48 बजे तक। नक्षत्र- स्वाति शाम के 06.59 बजे तक। योग- विष्कंभ रात के 10.04 बजे तक। दिशा शूल- पश्चिम और नैऋत्य (दक्षिण-पश्चिम) दिशा। इस ओर यात्रा उचित नहीं है। सूर्योदय- प्रातः 06.18 बजे। सूर्यास्त- सायं 17.59 बजे। राहुकाल- दिन के 10.41 से 12.08 बजे तक। अभिजीत- दिन के 11.45 से 12.32 बजे तक है। (नई दिल्ली के समयानुसार)

सात अक्टूबर 2021 का राशिफल

पढ़ें सात अक्टूबर 2021 का राशिफल। जानें कैसा बीतेगा आपका दिन? इसमें आप अपने जन्म समय और प्रचलित नाम के पहले अक्षर में से किसी भी आधार पर अपनी राशि जान सकते हैं। ऐसा पाया गया है कि बोलने वाले नाम का भी व्यक्ति के स्वभाव और जीवन पर असर पड़ता है। उसे भी इसमें शामिल किया गया है। साथ ही 12 राशियों को साल के 12 महीनों में तारीख के आधार पर भी बांटकर राशिफल दिया गया है। ये सारी विधियां प्रचलित और उपयोगी हैं। पाठक सुविधानुसार किसी का भी चयन कर सकते हैं।

मेष

(यदि आपका जन्म 21 मार्च से 20 अप्रैल के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम का पहला अक्षर-चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ हो तो) आज का दिन उपलब्धि वाला रहेगा। आप अपने कार्यक्षेत्र में जिस भी कार्य में हाथ डालेंगे, उसमें सकारात्मक परिणाम मिलेगा। आपके सुझावों पर ध्यान दिया जाएगा। इससे मन में प्रसन्नता रहेगी।

वृष

(यदि आपका जन्म 21 अप्रैल से 20 मई के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो हो तो) व्यापार से जुड़े जातकों की कमाई में बढ़ोतरी होगी। साथ ही खर्च भी बढ़ेगा। आपको अपनी आय को ध्यान में रखकर खर्च करना चाहिए। अन्यथा भविष्य में आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें- पर्यावरण संरक्षण के साथ सुधारें अपनी ग्रह दशा

मिथुन

(यदि आपका जन्म 21 मई से 21 जून के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हां हो तो) निवेश के लिए दिन थोड़ा जोखिम वाला है। इसे फिलहाल टाल दें। आज आप जीवनसाथी को कहीं घुमाने-फिराने लेकर जा सकते हैं। परीक्षा की तैयारी में लगे विद्यार्थियों को अधिक परिश्रम की आवश्यकता है।

कर्क

(यदि आपका जन्म 22 जून से 22 जुलाई के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो हो तो) आज सार्वजनिक रूप से आपकी छवि और मजबूत होगी। भले ही अंदर से कुछ और ही रहे। उच्चाधिकारियों व उच्च प्रतिष्ठित लोगों से आपके संपर्क बनेंगे। भविष्य में इनका लाभ भी आपको मिलने वाला है।

सिंह

(यदि आपका जन्म 23 जुलाई से 22 अगस्त के बीच हुआ या राशि के या बोलने वाले नाम पहला अक्षर-मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे हो तो) सात अक्टूबर 2021 का राशिफल भाग्योदयकारक है। आज जिस भी कार्य में हाथ डालेंगे, सफलता अवश्य मिलेगी। सहकर्मी आपकी बातों को विश्वास से मानेंगे। इससे कार्य सुचारु रूप से चलते रहेंगे।

कन्या

(यदि आपका जन्म 23 अगस्त से 22 सितंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो हो तो) आज आप अपनी कार्यकुशलता और सामाजिक प्रतिष्ठा का प्रयोग कर लाभ पाएंगे। व्यवसायियों के कामकाज में सुव्यवस्था रहेगी। कमाई के अवसर मिलेंगे। कुछ समय से रुके कार्यों में गति आएगी।

तुला

(यदि आपका जन्म 23 सितंबर से 23 अक्टूबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते हो तो) दिन आपके लिए मिश्रित फल वाला रहेगा। दोपहर से पहले थोड़ी दुविधा में रहेंगे। बाद में मानसिक स्थिति सुधरेगी। घर और बाहर के मामले में मजबूती से निर्णय लेंगे। इसका लाभ भी मिलेगा।

वृश्चिक

(यदि आपका जन्म 24 अक्टूबर से 21 नवंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू हो तो) मातृ शक्ति के सहयोग से काम में सफलता मिलेगी। आर्थिक लाभ भी होगा। प्रियजनों के साथ पर्यटन की योजना बनेगी। परिवार के बुजुर्ग किसी बात पर नाराज होंगे लेकिन बाद में मान जाएंगे।

धनु

(यदि आपका जन्म 22 नवंबर से 21 दिसंबर के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे हो तो) आपके स्वभाव में चंचलता रहेगी। गंभीर कार्यों में लापरवाही दिख सकती है। इसके परिणाम निराशाजनक रहेंगे। आस-पास के लोगों को हल्के में लेने का प्रतिकूल प्रभाव निजी संबंधों पर पड़ेगा।

मकर

(यदि आपका जन्म 22 दिसंबर से 19 जनवरी के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- भो, जा, जी, खी, खू, ख, खो, गा, गी हो तो) किसी कारण से महत्वपूर्ण कार्य को बीच में ही छोड़ना पड़ेगा। व्यवसाय से जुड़े लोगों के हाथ आए अनुबंध निरस्त हो सकते हैं। महिलाएं घरेलू कार्य में नुकसान होने से दुखी होंगी।

कुंभ

(यदि आपका जन्म 20 जनवरी से 18 फरवरी के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा हो तो) आज का दिन मिला-जुला फल वाला है। आप बिना किसी की सलाह के निर्णय नहीं लें। स्वयं लिए निर्णय के गलत होने का खतरा अधिक है। इसका प्रभाव आपकी आय पर भी पड़ सकता है।

मीन

(यदि आपका जन्म 19 फरवरी से 20 मार्च के बीच हुआ या राशि के आधार पर या बोलने वाले नाम पहला अक्षर- दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची हो तो) आकस्मिक रूप से स्थिति बिगड़ सकती है। आपको जहां लाभ की संभावना थी वहां भी हानि होगी। कामकाज से जुड़ी महिलाएं आज ज्यादा सतर्क रहें। उनकी मामूली गलती विपत्ति ला सकती है।

नोट- सात अक्टूबर 2021 का राशिफल आपने पढ़ा। दिशा शूल में जाना कि आज दक्षिण और दक्षिण-पूर्व दिशा की यात्रा ठीक नहीं है। जाना जरूरी हो तो दही खाकर रवाना हों। इससे दोष में कमी आएगी। यदि एक ही स्थान से चलकर वापस लौटना हो तो कुछ करने की जरूरत नहीं है।

यह भी पढ़ें- धन प्राप्ति और रोग नाश के लिए रामबाण हैं ये मंत्र

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here