Home काम की बातें उंगलियों में जादुई ताकत, बीमारियों का चुटकी में इलाज

उंगलियों में जादुई ताकत, बीमारियों का चुटकी में इलाज

735
चमत्कारिक है मंत्र का विज्ञान, इससे पा सकते मनचाहा फल
चमत्कारिक है मंत्र का विज्ञान, इससे पा सकते मनचाहा फल।

magic of fingers : उंगलियों में जादुई ताकत है। इससे कई बीमारियों का चुटकी में इलाज संभव है। यह प्रकृति का हमें उपहार है। उसने जीवन की कमान हमारे हाथ में दे दी है। कर्म हो या भाग्य, उसके सारे सूत्र हमारे हाथ में हैं। बारी-बारी से मैं सब पर प्रकाश डालूंगा। पहले स्वास्थ्य की बात। शरीर के सभी अंग उपयोगी होते हैं। हाथों की उंगलियों में है जादुई ताकत। इससे आप खुद बीमारियों का उपचार कर सकते हैं। जरूरत है सही ज्ञान की। यह अत्यंत प्रभावी है।

दरअसल इस विज्ञान का ठोस और सीधा आधार है। हाथ की पांचों उंगलियां शरीर के भिन्न अंगों से जुड़ी हैं। शरीर में दर्द हो तो दर्दनाशक दवाइयां खाने की जरूरत नहीं। उंगलियों में जादुई ताकत है। आप इसका इस्तेमाल करें। इस लेख में हम  इसकी जानकारी आपको देंगे। आपको बताएंगे कि दर्द सिर्फ उंगली को रगड़ने से दूर होता है।

उंगलियों का संबंध अलग अंग व भाव से

हमारे हाथ की अलग अलग उंगलियां अलग अलग बीमारियों और भावनाओं से जुड़ी होती हैं। ये उंगलियां चिंता, डर और चिड़चिड़ापन जैसी समस्याएं तक दूर करने की क्षमता रखती हैं। ध्यान देकर देखें तो उंगलियों पर धीरे से दबाव डालने से शरीर के कई अंगों पर प्रभाव स्पष्ट महसूस किया जा सकता है।

अंगूठा 

हाथ का अंगूठा हमारे दिल से जुड़ा होता है। अगर आप के दिल की धड़कन तेज है तो हलके हाथों से अंगूठे पर मसाज करें और बीच-बीच में अंगूठे को हल्का सा खींचें। इससे दिल की धड़कन सामान्य होने लगेगी। फिर आप को आराम मिलेगा।

तर्जनी 

उंगलियों में जादुई ताकत है। तर्जनी उंगली का पेट से सीधा संपर्क होता है। ये आंतों से जुड़ी होने के कारण पेट से संबंधित बीमारी से निपटने में प्रभावी होती है। अगर आप के पेट में दर्द है तो इस उंगली को हल्का सा रगड़ें, थोड़ी देर में ही दर्द से राहत मिलेगी। नियमित अभ्यास से पेट की गंभीर बीमारी से भी छुटकारा मिल जाएगा।

बीच की उंगली 

ये उंगली परिसंचरण तंत्र तथा खून के प्रवाह से जुड़ी होती है। अगर आप को चक्कर आ रहा हो या आपका जी घबरा रहा हो तो इस उंगली पर मालिश करने से तुरंत राहत पा सकते हैं। नियमित अभ्यास से मानसिक ताकत के साथ ही खून के प्रवाह को नियमित किया जा सकता है।

तीसरी उंगली

ये उंगली आपकी मनोदशा से जुड़ी होती है। अगर किसी कारण आपकी मनोदशा अच्छी नहीं हो या मन अशांत लग रहा हो तो तीसरी (अनामिका) उंगली की हल्की मसाज करें और बीच-बीच में उसे खींचें। इससे आपका मन शांत होगा। आपको जल्द ही इसके अच्छे नतीजे प्राप्त हो जाएंगे। आप का मूड खिल उठेगा। डिप्रेशन से पीड़ित लोगों को इसका नियमित प्रयोग करना चाहिए, उसे अत्यंत उत्साहजनक परिणाम मिलेंगे। दरअसल उंगलियों में जादुई ताकत है।

छोटी उंगली

छोटी उंगली का किडनी और सिर के साथ संबंध होता है। अगर आप को सिर में दर्द है तो इस उंगली को हल्का सा दबाएं और मसाज करें, आप का सिर दर्द गायब हो जायेगा। इसे मसाज करने से किडनी भी तंदरुस्त रहती  है।

यह भी देखें –
Previous articleजानें किस राशि के लिए है अच्छा समय, कौन रहेगा परेशान
Next articleवृष पर भाग्य की कृपा, जानें किस राशि का कैसा होगा दिन

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here