मेष राशि वाले सावधान रहें, कन्या वाले के लिए अच्छा समय

118
20 मई 2022 राशिफल और दो दिन का पंचांग
18 मई 2022 राशिफल और दो दिन का पंचांग।

Panchang and Rashifal of 19 coctober : मेष राशि वाले सावधान रहें। कन्या राशि वाले के लिए समय अच्छा है। ये है 19 अक्टूबर के राशिफल में। साथ में पढ़ें पंचांग। इसमें दिशा शूल और शुभ मुहुर्त की जानकारी दी गई है। दिशा शूल में यात्रा जरूरी हो तो चिंता न करें। वैकल्पिक व्यवस्था दी जा रही है।

सोमवार का पंचांग

19 अक्टूबर। विक्रम संवत्- 2077। शक संवत्- 1942। अयन- दक्षिणायन। ऋतु- शरद। मास- अश्विन। पक्ष- शुक्ल। तिथि- तृतीया दिन के 02.07 बजे तक। नक्षत्र- अनुराधा अगले दिन तड़के के 03.53 बजे तक। योग- आयुष्मान दिन के 01.19 बजे तक। दिशा शूल- पूर्व दिशा। सूर्योदय- प्रातः 06.24 बजे। सूर्यास्त- सायं 17:47 बजे। राहुकाल- सुबह के 07.50 से 09.15 बजे तक। अभिजीत मुहूर्त- दिन के 11.43 से 12.29 बजे तक।

मंगलवार का पंचांग

20 अक्टूबर। विक्रम संवत्- 2077। शक संवत्- 1942। अयन- दक्षिणायन। ऋतु- शरद। मास- अश्विन। पक्ष- शुक्ल। तिथि- चतुर्थी दिन के 11.48 बजे तक। नक्षत्र- ज्येष्ठा देर रात के 02.12 बजे तक। योग- सौभाग्य सुबह के 09.49 बजे तक। दिशा शूल- वायव्य (उत्तर-पश्चिम) दिशा। सूर्योदय- प्रातः 06.25 बजे। सूर्यास्त- सायं 17:46 बजे। राहुकाल- दिन के 02.56 से 04.21 बजे तक। अभिजीत मुहूर्त- दिन के 11.43 से 12.28 बजे तक।

19 अक्टूबर का राशिफल

मेष

मेष राशि वाले सावधान रहें। आज भी ग्रह आपके अनुकूल नहीं हैं। विरोधी हावी होने की कोशिश करेंगे। उससे आपकी परेशानी बनी रहेगी। आपका पुरुषार्थ और धैर्य ही काम आएगा। मेहनत और लगन से काम करें। इसका शीघ्र फायदा मिलेगा।

वृष

आज आपके सभी प्रयास सफल होंगे। नई योजना को आगे बढ़ा सकते हैं। उसमें सफलता मिलने के योग है। क्रोध और वाणी पर नियंत्रण रखें। अन्यथा मुसीबत में फंस सकते हैं। खर्च पर ध्यान दें। आय से ज्यादा व्यय का योग बन रहा है।

मिथुन

आर्थिक समस्या हो सकती है। खर्च के प्रति सावधान रहें। आय की तुलना में ज्यादा खर्च का योग है। परिवार के लोगों और मित्रों का सहयोग मिलेगा। रोजगार के क्षेत्र में नए अवसर के आसार हैं। अधिकारी भी अनुकूल रहेंगे। दांपत्य जीवन अच्छा रहेगा।

कर्क

सड़क पर सावधान रहें। खासकर वाहन चलाने में सावधानी बरतें। अन्यथा दुर्घटना हो सकती है। आर्थिक रूप से दिन अनुकूल है। निवेश में फायदा होने का योग है। कार्यक्षेत्र में व्यस्तता रहेगी। हालांकि अपने काम से आपको संतोष मिलेगा।

सिंह

आज आपके काम की प्रशंसा होगी। संपत्ति बढ़ाने की योजना बन सकती है। स्वास्थ्य संबंधी समस्या होने के आसार हैं। गले में इन्फेक्शन हो सकता है। पुराना विवाद चल रहा है तो खत्म होगा। नए व उपयोगी लोगों को मुलाकात हो सकती है।

कन्या

आर्थिक रूप से दिन अनुकूल है। नए निवेश की भरपूर संभावना है। उससे फायदा होगा। मेष राशि वाले सावधान रहेंगे लेकिन आपको भी सतर्क रहना है। विरोधी परेशान कर सकते हैं। उनकी साजिश भारी पड़ सकती है। वाणी पर नियंत्रण रखें। शांति से काम लें।

तुला

परिवार में कलह हो सकती है। इससे मन खिन्न रहेगा। कार्यक्षेत्र में अनुकूल माहौल रहेगा। सहकर्मियों का भरपूर साथ मिलेगा। यात्रा का योग बन रहा है। यदि मौका मिले तो अवश्य यात्रा करें। भविष्य में इसका फायदा अवश्य मिलेगा।

वृश्चिक

लेन-देन में सतर्कता बरतें। पैसे फंस सकते हैं। आंख मूंदकर किसी पर भरोसा नहीं करें। संपत्ति मामले में परेशानी बढ़ सकती है। काफी समय बाद किसी प्रियजन से मुलाकात संभव है। परिवार के बुजुर्ग का स्वास्थ्य परेशान कर सकता है।

धनु

आज आपका दिन है। विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं सकेंगे। रोजगार के क्षेत्र में नया द्वार खुल सकता है। अधिकारी आपके काम की प्रशंसा करेंगे। मनोरंजक यात्रा का योग बन रहा है। परिवार के साथ अच्छा समय बिताएंगे।

मकर

वाहन चलाने में सावधानी बरतें। छोटी दुर्घटना हो सकती है। मामूली चोट का योग है। सिर्फ मेष राशि वाले सावधान न रहें, आपको भी सतर्क रहना होगा। राजनीति करने वालों के लिए अच्छा समय है। संगठन में आपका कद बढ़ेगा। विद्यार्थियों को थोड़ी परेशानी उठानी पड़ेगी।

कुंभ

रोजगार के सिलसिले में यात्रा हो सकती है। इस दौरान थोड़ी परेशानी संभव है। लेन-देन में सावधान रहें। अपने ही नजदीकी से झटका लग सकता है। वाहन चलाने में सावधानी बरतें। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले के लिए समय ठीक है।

मीन

नौकरीपेशा लोगों के लिए चुनौतियां बढ़ेंगी। कारोबारियों का काम ठीक रहेगा। आर्थिक मामलों में दिन अच्छा है। आय के नए स्रोत बन सकते हैं। नई योजना पर काम शुरू करने का योग है। खून संबंधी बीमारी का खतरा है। सावधानी बरतें।

नोट- मेष राशि वाले सावधान रहें। ये है 19 अक्टूबर के राशिफल की बात। पंचांग में दिशा शूल की जानकारी है। इसी दिशा में यात्रा जरूरी हो तो दर्पण देखकर करें। दोष में कमी आएगी।

यह भी पढ़ें- सुहागिनों के लिए क्यों महत्वपूर्ण हैं 16 श्रृंगार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here