मेष व मकर के लिए दिन अच्छा, जानें क्या कहते हैं आपके सितारे

116
15 मई 2022 राशिफल और दो दिन का पंचांग
15 मई 2022 राशिफल और दो दिन का पंचांग

panchang and rashifal of 20 october : मेष व मकर के लिए दिन अच्छा है। मैं बता रहा हूं कि क्या है सितारों की चाल? कैसा बीतेगा आपका दिन? देखें 20 अक्टूबर का पंचांग व राशिफल। इसमें है सूर्योदय व सूर्यास्त का समय। शुभ व अशुभकाल। यात्रा के लिए दिशा शूल और उससे बचने के उपाय।

मंगलवार का पंचांग

20 अक्टूबर। विक्रम संवत्- 2077। शक संवत्- 1942। अयन- दक्षिणायन। ऋतु- शरद। मास- अश्विन। पक्ष- शुक्ल। तिथि- चतुर्थी दिन के 11.48 बजे तक। नक्षत्र- ज्येष्ठा देर रात के 02.12 बजे तक। योग- सौभाग्य सुबह के 09.49 बजे तक। दिशा शूल- वायव्य (उत्तर-पश्चिम) दिशा। सूर्योदय- प्रातः 06.25 बजे। सूर्यास्त- सायं 17:46 बजे। राहुकाल- दिन के 02.56 से 04.21 बजे तक। अभिजीत मुहूर्त- दिन के 11.43 से 12.28 बजे तक।

बुधवार का पंचांग

21 अक्टूबर। विक्रम संवत्- 2077। शक संवत्- 1942। अयन- दक्षिणायन। ऋतु- शरद। मास- अश्विन। पक्ष- शुक्ल। तिथि- पंचमी सुबह के 09.07 बजे तक। नक्षत्र- मूल देर रात 01.33 बजे तक। योग- शोभन सुबह के 06.50 बजे तक। उसके बाद अतिगंड योग अगले दिन तड़के 4.25 बजे तक। दिशा शूल- वायव्य (उत्तर-पश्चिम) दिशा। सूर्योदय- प्रातः 06.26 बजे। सूर्यास्त- सायं 17:45 बजे। राहुकाल- दिन के 12.05 से 01.30 बजे तक। अभिजीत मुहूर्त- नहीं है।

20 अक्टूबर का राशिफल

मेष

मेष व मकर के लिए दिन अच्छा है। रोजी-रोजगार में फायदा हो सकता है। कुछ गंभीर सवाल सामने आ सकते हैं। उसमें बड़े-बुजुर्गों से सलाह अवश्य लें। पुराने मित्रों से मुलाकात संभव है। इससे आपको फायदा होगा। परिवार वाले के साथ समय अच्छा बीतेगा।

वृष

काफी समय से फंसे कार्य पूरे होंगे। मेहनत का फल मिलने का समय आ रहा है। सकारात्मक परिणाम शीघ्र देख सकेंगे। दूसरों के विवाद में हस्तक्षेप नहीं करें। अन्यथा आपको अनावश्यक तनाव होगा। अपने स्वास्थ्य पर ध्यान दें। विद्यार्थियों को थोड़ी समस्या हो सकती है।

मिथुन

आज का दिन मिला-जुला रहेगा। खुद को गंभीर बनाकर रखें। नजदीकी से भी सम्मानजनक दूरी रखें। अन्यथा परेशानी में फंसेंगे। जीवनसाथी का भरपूर सहयोग मिलेगा। आय की तुलना में अधिक खर्च का योग है। सतर्क रहें।

कर्क

अपने काम पर ज्यादा एकाग्र रहें। मन भटकने के आसार हैं। लक्ष्य पर ध्यान रहा तो भाग्य का भी साथ मिलेगा। काम का दबाव बढ़ सकता है। जीवनसाथी के साथ अच्छा समय बीतेगा। खान-पान में सतर्कता बरतें। पेट की समस्या हो सकती है।

सिंह

दोस्तों और परिवार जनों का साथ मिलेगा। इससे महत्वपूर्ण कार्य पूरा होने के योग हैं। विरोधी आज हावी हो सकते हैं। परेशान न हों। उनका वर्चस्व तात्कालिक रहेगा। कार्यक्षेत्र में चुनौतियों रहेंगी। उनका धैर्य से सामना करें। स्थिति नियंत्रित हो जाएगी।

कन्या

आर्थिक रूप से दिन अनुकूल है। निवेश करने पर फायदे का योग है। रोजगार के नए अवसर सामने आएंगे। कार्यक्षेत्र में आपकी स्थिति सुधरेगी। अपने क्रोध और वाणी पर नियंत्रण रखें। परिवार के साथ क्वालिटी टाइम बिताएंगे। इससे मन प्रसन्न होगा।

तुला

आपके लिए दिन अच्छा है। कार्यक्षेत्र में आपके काम की प्रशंसा होगी। सहकर्मियों का सहयोग मिलेगा। कारोबारियों के विकास के लिए अनुकूल समय है। धार्मिक कार्यों में शामिल होने का अवसर मिल सकता है। इससे मन को शांति मिलेगी।

वृश्चिक

अनावश्यक विवाद से परहेज करें। काफी समय से रुके जरूरी काम पर फोकस करें। उसके पूरे होने का समय आ रहा है। अधिकारियों से विवाद हो सकता है। अतः उनके सामने बोलते समय सावधान रहें। जरूरी न हो तो चुप ही रहें।

धनु

आज का दिन मिश्रित फल लेकर आ रहा है। कार्यक्षेत्र में सहयोगी आपके आचरण से प्रसन्न रहेंगे। अधिकारी हस्तक्षेप कर सकते हैं। परिवारवालों का भरपूर सहयोग मिलेगा। अच्छी यात्रा का योग बन रहा है। संतान पक्ष से थोड़ी परेशानी रह सकती है।

मकर

मेष व मकर के लिए दिन अच्छा है। कारोबार में लाभ का योग है। कार्यक्षेत्र की परेशानी खत्म हो सकती हैं। विरोधी परास्त होंगे। आपका प्रभाव बढ़ेगा। निवेश के लिए उपयुक्त समय है। राजनीति करने वालों का कद बढ़ेगा।

कुंभ

रोजगार के सिलसिले में यात्रा करनी पड़ सकती है। उसे जरूर करें। भविष्य में उसका फायदा होगा। खर्च का योग है। उससे थोड़े परेशान रह सकते हैं। लेन-देन में सावधानी बरतें। अन्यथा नुकसान हो सकता है। जीवनसाथी के साथ मनमुटाव संभव है।

मीन

आपका दिन आज व्यस्तता में बीतेगा। काम के दबाव से थक जाएंगे। हालांकि कार्यक्षेत्र में इसका फायदा मिलेगा। परिवार में आपसे लोगों  को थोड़ी शिकायत रह सकती है। उनकी बात को समझें। बातचीत कर समस्या का समाधान करें।

नोट- देखें 20 अक्टूबर का पंचांग। उसमें वायव्य अर्थात उत्तर-पश्चिम दिशा की यात्रा ठीक नहीं है। जरूरी हो तो गुड़ खाकर यात्रा कर सकते हैं। उससे दोष में कमी होगी।

यह भी पढ़ें – अति कल्याणकारी हैं चंद्रघंटा, दुर्गा के तीसरे रूप की महिमा निराली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here