घोड़े पर आकर हाथी पर जाएंगी मां दुर्गा, जानें कैसा रहेगा साल

192
अत्यंत कल्याणकारी है दुर्गा सप्तशती
अत्यंत कल्याणकारी है दुर्गा सप्तशती।

How will durga come and go : घोड़े पर आकर हाथी से जाएंगी मां दुर्गा। जानें कैसा रहेगा अगला वर्ष। कौन होगा परेशान। कौन रहेगा संतुष्ट। वैसे तो मां दुर्गा की सवारी शेर है। लेकिन नवरात्रि में वह धरती पर अलग-अलग सवारी से आती व जाती हैं। उनके सवारी का निर्धारण नवरात्रि के दिन व वार से होता है। इसके बारे में इस साइट पर विस्तार से जानकारी है। इस बार माता का आगमन शनिवार को हो रहा है। अर्थात वे घोड़े पर आएंगी। नवरात्रि का समापन सोमवार को होगा। अर्थात वे हाथी पर जाएंगी। यह जानकारी देवी पुराण के आधार पर है। वैसे इसमें अलग-अलग मत है। दूसरे मत के अनुसार माता पालकी पर आएंगी। उनका प्रस्थान भैंसे पर होगा। यह भी अच्छा नहीं है।

घोड़े की सवारी से अशांति के संकेत

माता की घोड़े पर सवारी शासन के लिए ठीक नहीं है। इससे पड़ोसी देशों से तनाव बढ़ेगा। युद्ध के हालात होंगे। देश में सरकार के प्रति अशांति बढ़ेगी। विरोध प्रदर्शन होंगे। कुछ राज्यों में सरकार पर खतरा रहेगा। कुल मिलाकर सत्ता के लिए हालात अच्छे नहीं होंगे। घोड़ा तेजी का भी प्रतीक है। अतः निर्णय और कार्य तेजी से होंगे। भक्तों को पूजा का फल तेजी से मिलेगा। वे भक्तिभाव से नियमपूर्वक पूजन करें।

हाथी पर वापस जाएंगी माता

माता की हाथी पर सवारी कृषि के लिए शुभ माना जाता है। फसल अच्छी होगी। अन्न की कहीं कमी नहीं होगी। इसका असर बाजार पर भी पड़ेगा। लेकिन इसे बहुत शुभ नहीं मानना चाहिए। उपज अच्छी होने के बाद भी किसान खुश नहीं रहेंगे। जाहिर है कि उन्हें खास फायदा नहीं होगा। यह जनता और सत्ता के लिए बहुत शुभ नहीं है। कुल मिलाकर घोड़े पर आकर हाथी पर वापसी शुभ नहीं है। अगले साल अच्छे की संभावना नहीं दिख रही है। सलाह है कि कष्ट टालने के उपाय करें। अवसर है, देवी पूजन का संकल्प लेकर जुट जाएं। मंत्र, पाठ, व्रत आदि से मां की उपासना करें। निश्चय ही माता कृपा बरसाएगी।

यह भी देखें – पहला दिन शैलपुत्री के नाम, भक्तों की मनोकामना करती हैं पूरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here